कभी सोचा ही नहीं था...

उनसें बिछड़ने का कभी सोचा ही नहीं था...
पहले ही सोचते तो ,दिलपे गहरे जख़्म नहीं होते..!
@सोनाली कुलकर्णी
कभी सोचा ही नहीं था... कभी सोचा ही नहीं था... Reviewed by SpandanKavita on August 21, 2017 Rating: 5

Related Shayari

Powered by Blogger.