Home » , , , , , , , » बस,यहीं दुआ कर देना...

बस,यहीं दुआ कर देना...

Penulis : SpandanKavita on Thursday, 8 February 2018 | February 08, 2018





Dear,
ऐसे मोड़पे हम दोनों मिले की 
ना हम आपके हो सके ,ना आप हमारे..
बस, अभी यहीं दुआ है कि,
अगले जनम मैं ऐसे मिलना की,
 हम खुदभी इक-दुसरेसे को 
इक दुसरेसे दूर नहीं कर पायेंगे..!!
@सोनाली कुलकर्णी


Share this article :

Post a Comment

 
Spandan Kavita | About Us | Contact Us | Site Map | Privacy-Policy |
Copyright © 2017. Spandan Kavita . All Rights Reserved.
>